Connect with us

मध्य पूर्व देशों में यहां बन रहा पहला पारंपरिक हिंदू मंदिर, सीएम धामी ने भी रखी ईंटे…

उत्तराखंड

मध्य पूर्व देशों में यहां बन रहा पहला पारंपरिक हिंदू मंदिर, सीएम धामी ने भी रखी ईंटे…

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यूएई दौरे के दौरान बुधवार को अबू धाबी में निर्माणाधीन बीपीएस हिन्दू मन्दिर में ईंटे रखकर कारसेवा की। बताया जा रहा है कि मंदिर का निर्माण 55 हजार स्क्वायर मीटर जमीन पर हो रहा है। खास बात ये भी है कि सिर्फ अबू धाबी ही नहीं, बल्कि मध्य पूर्व देशों में यह पहला पारंपरिक हिंदू मंदिर है। हिंदू मंदिर में मूर्तियों को स्थापित कर दिया गया है। हालांकि, मंदिर के कुछ हिस्सों का निर्माण कार्य अभी बचा हुआ है, जो कि जल्द ही बन जाएगा। कहा जा रहा है कि 2024 तक आम जनता के लिए इसे खोल दिया जाएगा।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां पर हिन्दू धर्म को स्थापित करने और मन्दिर निर्माण का जो कार्य चल रहा है, यह हम सभी के लिए गौरव का क्षण हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से इस मन्दिर निर्माण का कार्य हो रहा है। उनके नेतृत्व में भारत को विश्व पटल पर मान-सम्मान और अलग पहचान मिल रही है। मुख्यमंत्री ने इस मन्दिर के निर्माण में सहयोग देने वालों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह हिन्दू मन्दिर सांस्कृतिक विरासत, मूल्यों, सद्भाव और परंपराओं को बढ़ावा देने का कार्य भी करेगा। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः जंगल में घास लेने गई महिला पर गुलदार ने किया हमला, ऐसे बचाई जान…

वहीं इससे पहले उत्तराखण्ड ग्लोबल इन्वेस्टर समिट 2023 हेतु दुबई में आयोजित रोड शो में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को विभिन्न उद्योग समूहों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री की उपस्थिति में दुबई में पहले दिन  विभिन्न उद्योग समूहों के साथ ₹11925 करोड़ के इनवेस्टमेंट एमओयू साइन किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी उद्योग घरानों को आगामी 8 एवं 9 दिसम्बर माह में देहरादून में आयोजित होने वाले समिट हेतु निमत्रण भी दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री डा. धनसिंह रावत भी मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः सहायक अध्यापक के पदों पर निकली बंपर भर्ती, ऐसे करें आवेदन…

उत्तराखण्ड सरकार एवं विभिन्न उद्योग समूहों के साथ इनवेस्टमेंट एमओयू साइन किए गए। जिनमें पर्यटन, शिक्षा, इन्फ्रा, रियल एस्टेट, स्वास्थ्य, मसाले, एरोमा आदि से जुड़े समूहों के साथ निवेश करार किए गए। पहले सत्र में 5450 करोड़ के जबकि दूसरे सत्र में 6475 करोड़ के एमओयू किए गए हैं। सर बायेटेक एवं हयात इंडिया के साथ 2 हजार करोड़, कार्मिला न्यूट्रीशन टेक्नोलॉजी ग्रुप के साथ फार्मा प्रोडक्शन हेतु 950 करोड़, जीटीसी ग्रुप के साथ 800 करोड़, फ्लो कॉग्लोमिरेट समूह के साथ रियल एस्टेट, इन्फ्रा एवं पर्यटन के क्षेत्र में निवेश हेतु 500 करोड़ का एमओयू, एक्सले ग्रुप के साथ मैनीफ्रेक्चिरिंग सेक्टर हेतु 700 करोड़, शरफ लॉजिस्टिक के साथ 500 करोड के इन्वेस्टमेंट एमओयू साइन किए जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  होली के गीतों पर झूमते नजर आए कमिश्नर दीपक रावत, ऐसे दी बधाई…

इसके साथ ही माई परफ्यूम के साथ एरोमा में 250 करोड़, द ब्रिस्टल होटल के साथ 300 करोड़, खमास हॉस्पिटैलिटी 2000 करोड़, कांसेप्ट ब्रांड (रिटेल स्टोर) 500 करोड़, अरब एंड इंडिया स्पाइसेज के साथ (स्पाइस हब) 50 करोड़, मेडी क्यू (हेल्थ केयर) 250 करोड़, हार्ट ट्रेवल्स 1000 करोड़, नीलगिरी ट्रेडिंग 25 करोड़, टीएमसी शिपिंग 100 करोड़ और रामी होटल्स के साथ 2000 करोड़ के एमओयू किए गए हैं।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top