Connect with us

नैनीताल और कैंचीधाम जाने से पहले पढ़ ले ये खबर, वरना हो जाएंगे परेशान…

उत्तराखंड

नैनीताल और कैंचीधाम जाने से पहले पढ़ ले ये खबर, वरना हो जाएंगे परेशान…

उत्तराखंड में क्रिसमस और नए साल के लिए तैयारियां जोरों पर है। क्रिसमस व नए साल का जश्न मनाने के लिए आने वाले पर्यटकों के स्वागत के लिए सरोवर नगरी भी तैयार हो गई है। शहर के प्रमुख होटलों में 80 प्रतिशत से अधिक एडवांस बुकिंग हो चुकी है। इस बार क्रिसमस व नए साल पर वीकेंड होने की वजह से पर्यटकों की भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है। ऐसे में जिला एवं पुलिस प्रशासन ने भीड़ उमड़ने तथा वाहनों को पार्किंग करने के लिए विशेष प्लान तैयार कर लिया है। अगर आप भी पहाड़ का रुख कर रहे है तो नए रूट प्लान को चेक कर लें…

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस से नैनीताल शहर और कैंचीधाम जाने वालों के लिए प्लान तैनात किए है। नए प्लान के तहत सफर करना होगा। जबकि स्थानीय लोगों को आधार कार्ड दिखाने पर सामान्य रूट से ही आवागमन की सुविधा होगी। क्रिसमस और नए साल के लिए नैनीताल शहर में यातायात को सुगम बनाने के लिए क्रिसमस और नए साल पर यहां आने वाले पर्यटकों के वाहन बगैर किसी रोक-टोक के किसी भी निर्धारित मार्ग से आ-जा सकते हैं। वाहनों की पार्किंग मैट्रोपोल, अशोका व डीएसए पार्किंग में होती है, इन तीनों पार्किंग में सामान्य स्थिति में 900 से 1000 वाहनों की पार्किंग की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  नवोदय विद्यालय में नॉन टीचिंग के रिक्त पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करें आवेदन…

दूसरी स्कीम के तहत जब फ्लैट (डीएसए). मैट्रोपोल व अशोका पार्किंग 70 प्रतिशत तक भर जाएंगे, इसके बाद वाहनों को सूखाताल पार्किंग एवं कुमांऊ मण्डल विकास निगम की पार्किंग में पार्क किया जाएगा। जबकि तीसरे स्कीम प्लान के तहत कुमाऊं मण्डल विकास निगम एवं सुखताल पार्किंग भी जब लगभग 70 फीसदी भर जाएगी तब भवाली से नैनीताल आने वाले वाहनों को मस्जिद तिराहा भवाली से बैंड नंबर 1 को डायवर्ट कर रूसी बाईपास हल्द्वानी रोड पर पार्क किया जाएगा तथा यहां से पर्यटकों को शटल सेवा के माध्यम से नैनीताल भेजा जाएगा।

इसी तरह से कालाढूंगी की ओर से आने वाले पर्यटकों के वाहनों को रूसी बाईपास कालाढूंगी रोड एवं नारायण नगर पार्किंग में पार्क करवाकर शटल सेवा के माध्यम से नैनीताल भेजा जाएगा। चौथे स्कीम प्लान के तहत जब तृतीय स्कीम के प्रभावी होने पर नैनीताल शहर में पर्यटकों के वाहनों का दबाव ज्यादा होगा तो नैनीताल तिराहा (कालाढूंगी) एवं भीमताल तिराहा (काठगोदाम) में वाहनों की चैकिंग प्रारंभ करते हुए भीमताल, भवाली व अल्मोड़ा जाने वाले पर्यटकों को नैनीताल तिराहा कालाढूंगी से होते हुए मंगोली रूसी 1 से रूसी 2 होते हुए बैंड नं 1 से भवाली अल्मोड़ा भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  जल्द ही दून वासियों के घरों में पीएनजी की होगी सप्लाई, पूरा हुआ काम…

नैनीताल तिराहा कालाढूंगी से नैनीताल की ओर केवल केमू की बस व टेंपो ट्रैवलर आएंगे। शेष टूरिष्ट की (बडी बसें) नैनीताल तिराहा कालाढुंगी से ऊपर नहीं आएगी। बारा पत्थर से पंगोट रोड पर टेंपो ट्रैवलर नहीं जाएगे, केवल हल्के चौपहिया वाहन को प्रवेश दिया जाएगा। पाँचवी स्कीम प्लान के तहत नैनीताल शहर मे यातायात का दबाव फिर भी बढता है तो नैनीताल आने वाले अन्य जनपदों के बाइकर्स को नैनीताल तिराहा कालाढूंगी व रानीबाग में रोका व पार्क कराया जायेगा। वहाँ से ये लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट (बस, टैक्सी) के माध्यम से नैनीताल भेजे जाएगे।

जू-शटल के वाहनों को सैन्ट फ्रान्सेंस चर्च के नीचे पार्क कराया जायेगा। वहा से इन वाहनों को बारी-बारी से जू को भेजा जायेगा। इण्डिया होटल के पास किसी भी प्रकार के टेक्सी/प्राइवेट/जू-शटल वाहन पार्क नही होंगे। इसके अलावा नए साल पर कैंचीधाम के लिए रूट प्लान तैयार किया गया है। कैंची धाम में पर्यटकों के वाहनों को बिना किसी रोक-टोक के कैंची भेजा जाएगा। कैंची धाम स्थित पार्किंग फुल हो जाने पर वाहनों को भवाली स्थित विभिन्न पार्किंग में पार्क कराकर पर्यटकों को शटल के माध्यम से कैंची भेजा जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर भारी वाहनों को क्वारब से डायवर्ट कर मोना होते हुए खुटानी को भेजा जाएगा, इसी प्रकार हल्द्वानी से आने वाले भारी वाहनों को खुटानी होते हुए क्वारब की तरफ भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश के कई जिलों में बारिश-बिजली गिरने के आसार, 10 जिलों के लिए अलर्ट जारी…

यदि वाहनों का दबाव अत्यधिक रहता है तो हल्द्वानी से आने वाले वाहनों को वाया भीमताल, भवाली होते हुए कैंची भेजा जाएगा व वापसी हल्द्वानी जाने वाले वाहनों को भवाली चौराहा, गेठिया ज्योलीकोट होते हुए हल्द्वानी भेजा जाएगा। इस प्रकार वन वे व्यवस्था रहेगी। स्थानीय निवासियों पर यह रूट प्लान लागू नहीं होगा। स्थानीय लोगों के आधार कार्ड चैक करने पर उन्हें सामान्य प्रवेश दिया जाएगा। जिन होटलों में पार्किंग की सुविधा है उन होटलों में बुकिंग वाले पर्यटकों के वाहनों को सामान्य प्रवेश दिया जाएगा। स्थानीय नागरिक यदि अन्य वाहनों से हैं तो उनका आधार कार्ड चेक कर आधार कार्ड स्थानीय होने पर सामान्य प्रवेश दिया जाएगा। लोकल टैक्सियों को भी सामान्य प्रवेश दिया जाएगा। सरकारी सेवा से संबंधित वाहनों को सामान्य प्रवेश दिया जाएगा।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top