Connect with us

PM मोदी का 12 अक्टूबर को पिथौरागढ़ प्रस्तावित, सीएम धामी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा…

उत्तराखंड

PM मोदी का 12 अक्टूबर को पिथौरागढ़ प्रस्तावित, सीएम धामी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा…

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगामी 12 अक्टूबर को प्रस्तावित पिथौरागढ़ भ्रमण के दृष्टिगत तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने नैनी सैनी एयरपोर्ट पर वायुयान लैंडिंग व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था एवं अन्य व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। इस अवसर पर सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी, सांसद  अजय टम्टा, जिला पंचायत अध्यक्ष दीपिका बोहरा, विधायक बिशन सिंह चुफाल, जिलाधिकारी रीना जोशी , मुख्य विकास अधिकारी वरुण चौधरी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि जनसभा स्थल एसएस वल्दिया स्पोटर्स स्टेडियम में मंच व्यवस्था, सीटिंग अरेंजमेंट, साउंड व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था, टेण्ट, पेयजल, शौचालय आदि व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को सभी व्यवस्थाएं त्रुटि रहित और समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का यह उत्तराखण्ड दौरा देवभूमि के विकास को और गति देने के साथ ही प्रदेश के विभिन्न धार्मिक पर्यटन क्षेत्रों को भी वैश्विक स्तर पर नई पहचान देने का कार्य करेगा।

यह भी पढ़ें 👉  संविदा और आउटसोर्स कर्मियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता देने की कवायद शुरू…

बता दें कि 12 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी त्रिशूल एयरवेज से बोइंग विमान के जरिए उत्तराखंड आएंगे। यहां वे सबसे पहले जागेश्वर धाम में पूजा अर्चना करेंगे। पीएम मोदी के कार्यक्रम के आधार पर मंदिर समिति ने भी अपनी ओर से कार्यक्रम तय किए हैं। मंदिर समिति के अनुसार पीएम मोदी जागेश्वर धाम मंदिर में 10 मिनट तक अलग-अलग मंदिरों एसपीजी के अधिकारियों ने पीएम के आगमन को देखते हुए हेलीकॉप्टर के लैंडिंग स्थल शौकियाथल का मुआयना किया गया है। उन्होंने हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए सुरक्षा की जानकारी भी ली है।

यह भी पढ़ें 👉  26 मार्च के इस जिले में खेली जाएगी होली, डीएम ने जारी किए छुट्टी के आदेश…

एसपीजी अधिकारियों ने शौकियाथल, पनुवानौला और आरतोला होते हुए जागेश्वर धाम तक सड़क का निरीक्षण भी किया है।प्रधानमंत्री के प्रस्तावित दौरे को लेकर धारचुला में कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। इन दिनों उच्च हिमालयी क्षेत्रों में सुरक्षा बलों का कड़ा पहरा है। समुद्र तल से 15 हजार फीट से अधिक की ऊंचाई पर पीएम मोदी की सुरक्षा व्यवस्था के लिए चप्पे-चप्पे पर सेना के साथ ही पैरामिलिट्री फोर्स भी नजर बनाए हुए हैं। वहीं एमआई की ट्रायल लैंडिंग भी यहां पर चल रही है।

यह भी पढ़ें 👉  होली की खुशियों में दर्दनाक हादसे से पसरा मातम,तीन की मौत-चार घायल…

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top