Connect with us

मशहूर रियलिटी शो इंडियन आइडल में पहुंचे सिलक्यारा टनल हादसे में फंसे मजदूर, सुनाई दास्तान…

उत्तराखंड

मशहूर रियलिटी शो इंडियन आइडल में पहुंचे सिलक्यारा टनल हादसे में फंसे मजदूर, सुनाई दास्तान…

उत्तरकाशी सिलक्यारा टनल हादसा दुनिया भर में सुर्खियों में रहा। 17 दिन जिंदगी मौत की लड़ाई लड़ने वाले 41 मजदूरों के लिए प्रार्थना की गई तो वहीं इस हादसे के हीरो गब्बर सिंह मशहूर रियलिटी शो इंडियन आइडल में पुहंचे। इस दौरान जब उन्होंने टनल में बिताए 17 दिनों की आपबीति सुनाई तो हर आंख नम हो गई।

गबर सिंह ने ताया कि 12 नवंबर को सुबह साढ़े पांच बजे निर्माणाधीन सुरंग में धंसाव हो गया था। जिससे 41 मजदूर टनल के अंदर फंस गए थे,  उस दौरान सभी श्रमिक बाहर की दुनिया से कट चुके थे। उनके पास खाने पीने के लिए कुछ नहीं था. वो पानी पीने के लिए टनल से टपकते हुए पानी से पानी भरते थे। जब जिंदगी और मौत की जंग के बीच टनल में फंसे कुछ युवा रोने लगे, तभी गबर सिंह ने उनका हौसला बढ़ाया और उनको समझाया कि सब ठीक हो जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  UPSC ने इस भर्ती परीक्षा को किया स्थागित, बताई जा रही ये वजह…

उन्होंने शो में कहा कि शुरूआती दिनों में सभी मजदूरों ने मूंगफली के छिलकों से भूख मिटाई। जब ऑक्सीजन की कमी से टनल के अंदर जीना मुश्किल हो रहा था, इसलिए राहत बचाव दल से सबसे पहले ऑक्सीजन की मांग की गई। मांग करने के बाद ऑक्सीजन मिली। उन्होंने बताया कि टनल के अंदर फंसे सभी लोग भगवान से सकुशल बाहर आने की प्रार्थना कर रहे थे। कड़ी मशक्कत के बाद सिलक्यारा टनल में फंसे 41 श्रमिकों का 17वें दिन रेस्क्यू हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश में अब जल्द ही शुरू होगी तीन शहरों के लिए ड्रोन मेडिकल सेवा…

शो में गबर सिंह की बातें सुनकर जज श्रेया घोषाल, कुमार सानू और विशाल ददलानी समेत वहां मौजूद सभी दर्शकों की आंखों से आंसू छलकने लगे। वहीं दूसरी ओर बताया जा रहा है कि 41 मजूदरों के फंसने के 38 दिन बाद सिलक्यारा सुरंग का निर्माण कार्य दोबारा शुरू हो गया है। कंपनी पहले बड़कोट सिरे से काम कर रही है। जांच होने के बाद सिलक्यारा सिरे से भी सुरंग निर्माण शुरू किया जाएगा। केवल 480 मीटर सुरंग बची हुई है।

यह भी पढ़ें 👉  नवोदय विद्यालय में नॉन टीचिंग के रिक्त पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करें आवेदन…

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top