Connect with us

उत्तराखंडः बिजली सरचार्ज में प्रति यूनिट हुई इतनी बढ़ोतरी, अब ऐसे आएगा बिल…

उत्तराखंड

उत्तराखंडः बिजली सरचार्ज में प्रति यूनिट हुई इतनी बढ़ोतरी, अब ऐसे आएगा बिल…

उत्तराखंड में एक बार फिर बिजली को करंट लगने वाला है। बताया जा रहा है कि ऊर्जा निगम ने मार्च के लिए फ्यूल एंड पावर परचेज कॉस्ट एडजस्टमेंट सरचार्ज की घोषणा की है। जिसके तहत सरचार्ज में पांच पैसे से लेकर 18 पैसे प्रति यूनिट तक की अतिरिक्त बढ़ोतरी को मंजूरी दी गई है। जिससे अब आपका बिजली का बिल बढ़ कर आएगा। आइए जानते है नई दरें…

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार ऊर्जा निगम ने फ्यूल एंड पावर परचेज कॉस्ट एडजस्टमेंट सरचार्ज का ऐलान कर दिया है। बीपीएल, घरेलू, कॉमर्शियल से लेकर औद्योगिक हर श्रेणी पर महंगी बिजली की मार पड़ेगी। इस ऐलान के बाद फरवरी महीने के लिए बीपीएल उपभोक्ताओं को 15 पैसे, घरेलू 40 पैसे, कॉमर्शियल 58 पैसे और औद्योगिक श्रेणी के उपभोक्ताओं को हर महीने 54 पैसे प्रति यूनिट का अतिरिक्त भुगतान करना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  ‘उत्तराखंड सार्वजनिक और निजी संपत्ति क्षति वसूली विधेयक’ लाएगी धामी सरकार, जानें क्या होंगे प्रावधान…

बताया जा रहा है कि सरचार्ज की दरें हर महीने अलग से तय होती हैं। इस बार बीपीएल उपभोक्ताओं को पांच पैसे प्रति यूनिट, घरेलू कनेक्शन पर 11 से 13, कॉमर्शियल कनेक्शन पर सर्वाधिक 18 पैसे प्रति सूनिट की दर से अतिरिक्त भुगतान करना होगा। एलटी-एचटी इंडस्ट्री को 17 पैसे/यूनिट इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन वालों को 15 पैसे/यूसिंट, 6 सरकारी संस्थानों को 17, किसानों को आठ पैसे, प्राइवेट ट्यूवबेल पर पांच, मिक्स लोड वाले कनेक्शन और रेलवे के लिए 16 पैसे पैसे यूनिट की अतिरिक्त वृद्धि तय की गई है। एमडी यूपीसीएल अनिल कुमार ने सरचार्ज वृद्धि की पुष्टि की।

यह भी पढ़ें 👉  देवभूमि उत्तराखंड के लोकल उत्पादों को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर मिलेगी ऐसे पहचान, जानें प्लान…

गौरतलब है कि केंद्र सरकार की ओर से बाजार से हर महीने खरीदी जाने वाली महंगी बिजली का भार हर महीने ही उपभोक्ताओं पर डाले जाने का आदेश होने के बाद ये व्यवस्था उत्तराखंड में भी शुरू हो गई है। बाजार से खरीदी जाने वाली बिजली के लिए यूपीसीएल हर महीने उपभोक्ताओं से सरचार्ज वसूलता है। विद्युत नियामक आयोग के आदेश के बाद अब ऊर्जा निगम अपने स्तर पर ही हर महीने उपभोक्ताओं के लिए सरचार्ज तय कर रहा है। एक जुलाई 2023 से इसकी शुरुआत हो गई है।

यह भी पढ़ें 👉  राजकीय मेडिकल कॉलेज में रैगिंग के आरोप में पांच छात्र निष्कासित…

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top