Connect with us

 दिल्ली-NCR. UP से दूसरे प्रदेशों में आने-जाने वाले यात्रियों को झटका, देना होगा ज्यादा किराया…

उत्तराखंड

 दिल्ली-NCR. UP से दूसरे प्रदेशों में आने-जाने वाले यात्रियों को झटका, देना होगा ज्यादा किराया…

अगर आप बस का सफर करते है या सफर करने की सोच रहे है तो आपके लिए जरूरी खबर है। बताया जा रहा है कि छः दिनों के लिए दिल्ली-NCR  से यूपी और उत्तराखंड के विभिन्न शहरों में सफर महंगा हो गया है। यात्रियों को अब अपने गंतव्य पर पहुंचने के लिए अधिक रुपये चुकाने होंगे। इतना ही नहीं उनका समय भी ज्यादा लगेगा। गंगा स्नान के चलते रूट डायवर्ट रहने के कारण ये फैसला लिया गया है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार दिल्ली-NCR. UP से दूसरे प्रदेशों में आने-जाने वाले यात्रियों और पर्यटकों को अगले छह दिनों तक लंबा सफर तय करना पड़ेगा। दूरी बढ़ने के साथ किराया भी बढ़ा दिया गया है। जिसके तहत अब यात्रियों को तय किराए से करीब प्रति व्यक्ति 50-100 रुपये तक चुकाने पड़ेंगे। हल्द्वानी रोडवेज डिपो से दिल्ली के लिए 70 बसें संचालित होती हैं। इन सभी को 29 नवंबर तक मेरठ, बिजनौर या बुलंदशहर के रास्ते दिल्ली भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  31 दिसंबर को खत्म हो रही है फाइनेंस से जुड़े कई कामों की डेडलाइन, जल्द करें ये काम…

मेरठ के रास्ते जाने वाली गाड़ियों में यात्रियों को एक ओर से 50 रुपये वहीं बुलंदशहर से होकर जाने वाली बसों में यात्रियों को 80 रुपये तक एक ओर का अतिरिक्त भार पड़ेगा। वहीं पर्वतीय मार्गों से आने वाली दिल्ली मार्ग की बसों का किराया 50 से 120 रुपये प्रति व्यक्ति आना-जाना पड़ेगा। इसके अलावा यात्रियों को दो से तीन घंटे अतिरिक्त सफर करना पड़ेगा। बुलंदशहर व पर्वतीय मार्गों की बसों में यात्रियों से दूरी बढ़ने की वजह से तय हुआ अतिरिक्त किराये का टिकट काटकर वसूली की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  आईपीएस अफसर अरुण मोहन जोशी बने देश के सबसे कम उम्र के आईजी…

गौरतलब है कि गंगा स्नान के चलते गढ़ मुक्तेश्वर पर दिल्ली जाने वाले मार्ग का रूट डायवर्ट किया गया है।  शारदीय गंगा स्नान के चलते गढ़मुक्तेश्वर घाट पर लाखों श्रद्धालुओं पहुंचते हैं। ऐसे में जाम और भीड़ की वजह से पब्लिक ट्रांसपोर्ट के वाहनों की आवाजाही ठप पड़ जाती है। वहीं नियमित तौर पर चलने वाले वाहनों के लिए यूपी सरकार ने रूट डायवर्जन कर दिया है। ऐसे में इसका असर अन्य यात्रियों और पर्यटकों पर भी पड़ेगा।

यह भी पढ़ें 👉  अब हर शुक्रवार को इस अस्पताल में मिलेगा निःसंतान दंपत्तियों को आधुनिक इलाज…

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top