Connect with us

आईपीएस अफसर अरुण मोहन जोशी बने देश के सबसे कम उम्र के आईजी…

उत्तराखंड

आईपीएस अफसर अरुण मोहन जोशी बने देश के सबसे कम उम्र के आईजी…

उत्तराखंड के आईपीएस अफसर अरुण मोहन जोशी एक बार फिर सुर्खियों में है। जिसकी वजह उनके  देश के सबसे कम उम्र (40 साल) के आईजी बनना हैं। बता दें कि 2006 बैच में अरुण मात्र 23 साल में आईपीएस बने थे। अब 40 साल में आईजी बनकर उन्होंने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। उनके इस कर्तिमान ने प्रदेश को गौरावान्वित किया है।

यह भी पढ़ें 👉  आईटीआई प्रधानाचार्य भर्ती से जुड़ा अपडेट, आयोग ने दिया एक और मौका…

मिली जानकारी के अनुसार उत्तराखंड के चकराता निवासी अरुण मोहन जोशी ने 2006 के बाद सबसे कम आयु में आईपीएस बनने का रिकॉर्ड अन्य कई युवाओं ने अपने नाम किया है। उनकी प्राथमिक शिक्षा देहरादून और हरिद्वार से हुई है। जिसके बाद उन्होंने आईआईटी रुड़की में इंजीनियरिंग के लिए दाखिला लिया। लेकिन उनका तेज़ दिमाग, देश की सेवा करने का जज़्बा और कुछ अलग कर दिखाने की ललक ने उन्हें 2006 में आईपीएस बना दिया। वह देहरादून के एसएसपी भी रहें। सितंबर 2019 में आईपएस अरुण महन जोशी ने बतौर एसएसपी कार्यभार संभाला था।

यह भी पढ़ें 👉  इनकम टैक्स रिटर्न भरने वाले टैक्सपेयर्स के लिए काम की खबर, जानिए अपडेट…

कोरोना काल के समय देहरादून से उनके निष्पक्ष ड्यूटी करने की वीडियो आज भी वायरल हैं। उनके काम करने के ढंग और प्रभावशाली व्यक्तित्व को देखते हुए हाल ही में 22 दिसंबर, 2023 को उत्तराखंड सचिवालय में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों की डीपीसी संपन्न हुई। जिसमें उन्हें आईजी पद के लिए पदोन्नति प्रदान करने का निर्णय लिया गया।  जिसके बाद अरुण की पदोन्नति हुई और अब वो आईजी पद ग्रहण कर चुके हैं। सीएम धामी ने उनके कांधे पर बैच लगा उन्हें बधाई दी है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में रामलला के स्वागत में होंगे कार्यक्रम, ये आदेश जारी…

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

To Top